• थाना तेजाजी नगर पुलिस टीम ने सूझबूझ व सजगता से 12000 लीटर फ्यूल से भरे टेंकर को ब्लास्ट होने से बचाया गया।
  • पुलिस ने आमजनो व आसपास के बंधे करीब एक दर्जन गाय व अन्य जानवरो को सुरक्षित किया गया ।

इन्दौर शहर में आपराधिक गतिविधियों को अंकुश लगाने के साथ ही किसी भी प्रकार की अप्रिय स्थिति या जनहानि सम्बंधित घटनाओ को रोकने के लिए पुलिस आयुक्त नगरीय इंदौर श्री हरिनारायणचारी मिश्र द्वारा इंदौर पुलिस को त्वरित एवं प्रभावी कार्यवाही करने के लिए निर्देशित किया गया है। उक्त निर्देशों के अनुक्रम में अतिरिक्त पुलिस आयुक्त इंदौर श्री मनीष कपूरिया एवं पुलिस उपायुक्त जोन – 01 इंदौर श्री अमित तोलानी द्वारा समय समय पर प्रभावी कार्यवाही के निर्देश दिये गये है। जिसके तारतम्य में अति. पुलिस उपायुक्त जोन-01 श्री जयवीर सिंह भदौरिया व सहायक पुलिस आयुक्त अनुभाग आजाद नगर श्री आशीष पटेल द्वारा दिए गए दिशा निर्देशानुसार, थाना प्रभारी थाना तेजाजी नगर निरी. आर.डी कानवा और उनकी टीम ने आज संवेदनशीलता से त्वरित कार्रवाई करते हुए एक बड़ी दुर्घटना होने बचाया गया हैं।

      आज दिनांक 24.01.2023 को थाना प्रभारी तेजाजीनगर व उनकी पुलिस टीम को राहगीर के माध्यम से सूचना प्राप्त हुई कि तेजाजीनगर ब्रिज के किनारे सर्विस रोड पर पेट्रोल व डीजल से भरा टैंकर पलट गया जो हाइटेंशन लाइन व लोकल लाइन के विद्युत पोलों के बीच में फंसा है, वहाँ पर आमजन फ्यूल को भरकर ले जाने के लिये भीड़ कर रहे हैं। यदि तुरंत एक्शन नहीं लिया गया तो खरगोन जैसी भयानक दुर्घटना भी हो सकती है। ।

      उक्त सूचना पर तत्काल वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी के नेतृत्व में तत्काल पुलिस टीम घटनास्थल पर पहुँची। टीम ने देखा वहां उलटे गिरे टैंकर क्रमांक MP09GF3362 इण्डियन आयल कम्पनी मे से पेट्रोल डीजल बह रहा है और वहां पर एकत्रित भीड़ अपने हाथों में प्लास्टिक की केने व बाटलो मे  पेट्रोल व डीजल भरने का प्रयास कर रहे थे। जिन्हे हमराही फोर्स की मदद से तुरंत हिकमत अमली से घटनास्थल से  हटाया गया।

      पुलिस ने घटनास्थल के आसपास के रहवासी व आमजनो तथा वहां बंधे जानवरों को सुरक्षित स्थानो पर पहुंचाया। ब्रिज के दोनो तरफ से वाहन की आवाजाही बंद कराई और एमपीवी और फायर ब्रिगेड को भी सूचित किया। कुछ समय बाद एमपीईबी के कर्मचारी उपस्थित होने पर घटनास्थल के विद्युत पोल की सप्लाई बंद कराई तथा फायर ब्रिगेड के उपस्थित होने पर सूझबूझ से फ्यूल रिसाव वाले क्षेत्र में पानी एव फाग का उपयोग कराया चूंकि फ्यूल लगातार बह रहा था इसलिये फोर्स के माध्यम से घटनास्थल के आसपास के क्षेत्र को सुरक्षित कर फ्यूल खाली होने तक रोड पर आमजनो की आवाजाही भी बंद होने के सम्बंध मे अनाउन्स कराया गया और रोड पर यातायात को व्यवस्थित करने हेतु फोर्स को लगाया गया।  करीबन 02 घण्टे के बाद टेंकर का फ्यूल पूरी तरह से खत्म होने पर टेंकर के नजदीक जाकर जांच करने पर संतुष्ट होने के पश्चात तुरंत क्रेनों को घटनास्थल पर बुलाया व फोर्स के माध्यम से टेंकर को बिजली के पोलो के मध्य से हटाकर सुरक्षित स्थान पर खड़ा कराया गया। बाद पुनः फ्यूल रिसाव वाले क्षेत्र मे फायर ब्रिगेड के बल के माध्यम से पानी व फाग का छिड़काव कराया गया। घटनास्थल पर पूरी तरह से सुरक्षित होने पर वाहनों की पुनः आवाजाही शुरू कराई गई।

      घटना के सम्बंध मे जानकारी प्राप्त करते टेंकर क्रमांक MP09GF3362 को चालक रणवीर सिंह द्वारा मांगलिया स्थित इण्डियन आयल के डिपो से 6000 लीटर पेट्रोल व 6000 लीटर डीजल कुल 12000 लीटर फ्यूर लेकर मिश्रा पेट्रोलियम खण्डवा जा रहा था व सामने से अज्ञात ट्रक आने पर साइड से टैंकर ले जाने पर बैलेंस बिगड़ने से फ्यूल टैंकर पलट जाना बताया। इस प्रकार थाना तेजाजीनगर पुलिस व्दारा तत्परता, सूझबूझ, संवेदनशील से अपनी जान की परवाह न कर आमजनो व आसपास के बंधे करीब एक दर्जन गाय व अन्य जानवरो को सुरक्षित बचाया गया। और एक भीषणतम दुर्घटना की भी संभावना हो सकती थी जिसे भी संवेदनशीलता और तत्परता से कार्रवाई कर  बचाव किया गया।

      उक्त कार्रवाई में तेजाजीनगर थाना निरीक्षक आर.के. डी. कनवा पुत्र अमृतलाल गवरी, पुत्र कुलदीप भदौरिया, पीआर 914 सुरेश कोचले, पीआर 1525 प्रदीप पटेल, आर 3674 गजेंद्र पटेल, आर 3667 नेपाल तिवारी, आर 3678 सुरेशनाथ, आर 1864 सौरभ शर्मा, आर 257 मुकेश शर्मा, आर 1871 अंकित भदौरिया, आर 2625 दीपेंद्र राणा व आर 3695 हेमंत दिनकर ने सराहनीय भूमिका निभाई है।