• 56 दुकान पर नुक्कड़ नाटक के माध्यम से भी किया लोगों को मानव दुर्व्यापार के प्रति जागरूक करने का प्रयास।

इंदौर- दिनांक 01 अक्टूबर  2022 –  पुलिस मुख्यालय भोपाल के निर्देशानुसार चलाए जा रहे जागरूकता अभियान  “चेतना” के अनुक्रम में पुलिस आयुक्त नगरीय इंदौर श्री हरिनारायणचारी मिश्र एवं अतिरिक्त पुलिस आयुक्त (अपराध /मुख्यालय) इंदौर श्री राजेश हिंगणकर के दिशा निर्देशन में  पुलिस उपायुक्त (मुख्यालय) श्री निमिष अग्रवाल एवं अति. पुलिस उपायुक्त (मुख्यालय) श्रीमती मनीषा पाठक सोनी व अति.पुलिस उपायुक्त श्री प्रमोद सोनकर के मार्गदर्शन में उक्त चेतना अभियान के तहत पुलिस टीमें विभिन्न स्कूल, कॉलेज, संस्थानों, मॉल बाजार, आदि भीड़ भाड़ वाले सार्वजनिक स्थानों पर  पहुंचकर बच्चों/महिलाओं एवं आम नागरिकों को मानव दुर्व्यापार संबंधी अपराधों एवं इनकी रोकथाम हेतु ध्यान रखने वाली बातों के प्रति जागरूक कर रहे है।

                इसी कड़ी में महिला थाना प्रभारी श्रीमती ज्योति शर्मा व महिला सुरक्षा शाखा की निरीक्षक क्लियर डामोर, कार्यालय पुलिस उपायुक्त मुख्यालय के निरीक्षक श्रीमती राधा जामौद, उप निरीक्षक श्री शिवम ठक्कर सउनि गयेंद्र यादव, उनि दुर्गा सूर्यवंशी, सउनि नलिनी पाटिल, प्रआर. वीरेन्द्र, प्रआर. सुनीता मोरे, आर. वंदना एवं आर. मनोज की टीम आज दिनांक 01.10.22 को  शा.हा.से.स्कूल पिपलिहना, शा.हा.से.स्कूल संयोगीतागंज, शा.हा.से.स्कूल अरण्य नगर स्कीम नंबर 54  विद्यार्थियों को मानव दुर्व्यापार जागरूकता हेतु मानव दुर्व्यापार पर आधारित लघु फिल्म (सुनहरे पंख, असली हीरो ) दिखाई गई, फिल्म दिखाने के पश्चात  पुलिस द्वारा चलाई जा रही विभिन्न हेल्प लाईन की भी जानकारी दि गई एवं पैंपलेट्स  वितरित किये गये।

 इसके बाद पुलिस टीम शहर के प्रमुख छप्पन दुकान पर पहुंची और वहां पर एक NGO के सहयोग से  अभियान से सम्बंधित नुक्कड़ नाटक के माध्यम से भी लोगों को मानव दुर्व्यापार के तहत होने वाले विभिन्न अपराधों एवं उनके तरीकों को बताया और किस प्रकार हम जागरूक व सतर्क रहकर, स्वयं व अपने परिजनों को इससे बचा सकते हैं बताया गया और नागरिकों को पुलिस द्वारा चलाई जा रही विभिन्न हेल्पलाइन व चाइल्ड लाइन हेल्पलाइन के बारे में बताया।

नवरात्रि के अवसर पर महिलाओं, बालिकाओं की सुरक्षा को प्राथमिकता से लेते हुए इंदौर पुलिस द्वारा 13 महिला पीसीआर इंदौर शहर में विभिन्न दुर्गा पांडाल और गरबा स्थल में विचरण कर महिलाओं, बालिकाओं की सुरक्षा कर रही है। इसके साथ ही उन्हें चेतना अभियान के तहत इंदौर पुलिस के द्वारा उनकी सुरक्षा हेतु चलाई जा रही विभिन्न हेल्पलाईन नंबर एवं मानव दुर्व्यापार की रोकथाम की जानकारी प्रदान कर रही है।