▪️ पढ़ाई के डर से बालक घर से ट्यूशन का बोलकर क्षेत्र में ही इधर-उधर छुप गया था, जिसे पुलिस टीम ने ढूंढ कर किया परिजनों के सुपुर्द।

इंदौर – शहर में अपहर्त/गुमशुदा बालक बालिकाओं के प्रकरणों में तत्काल संवेदनशीलता से कार्यवाही करने हेतु पुलिस आयुक्त नगरीय इंदौर श्री हरिनारायणचारी मिश्र व्दारा इंदौर कमीश्नरेट पुलिस को निर्देशित किया गया है। उक्त निर्देशो के तारतम्य में अतिरिक्त पुलिस आयुक्त श्री मनीष कपूरिया के मार्गदर्शन में पुलिस उपायुक्त ज़ोन-4 इंदौर श्री आर.के. सिंह व अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त जोन-4 श्री प्रशांत चौबे एवं सहायक पुलिस आयुक्त अनुभाग सराफा श्री एस.के.एस. तोमर व्दारा क्षेत्र में इस प्रकार के प्रकरणों में प्राथमिकता से गंभीरतापूर्वक कार्यवाही के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। जिसके तारतम्य में थाना सराफा द्वारा गुम हुए एक नाबालिक सात वर्षीय बालक को ढूंढ कर उसके परिजनों से मिलाने में सफलता प्राप्त हुई है।

पुलिस थाना सराफा पर आज दिनांक 19.01.2023 को शाम को थाना क्षेत्र मैं रहने वाले फरियादी ने बताया कि उनका 7 वर्ष का बालक घर से ट्यूशन के लिए गया था लेकिन ना तो वह ट्यूशन गया और ना ही अभी तक घर आया है पता नहीं कहां चला गया है या फिर उसे कोई ले गया है। 

उक्त रिपोर्ट पर तत्काल थाना प्रभारी सराफा के व्दारा गुम /अपहृत बालक की तुरंत तलाश करने के लिए वरिष्ठ अधिकारीयों के निर्देशन में अलग – अलग विशेष टीमें गठित कर उसके मिलने के संभावित स्थानों पर रवाना की गई और क्षेत्र के सीसीटीवी फुटेज तलाशने के लिए निर्देशित किया। पुलिस टीम ने बालक के घर से ट्यूशन जाने वाले और क्षेत्र के कई सीसीटीव्ही फुटेज खंगाले, जिसमें बालक जाता हुआ दिखा, जिसकी तत्परता पूर्वक तलाश की गई। अंततः सराफा पुलिस की मेहनत रंग लायी और तलाशी के दौरान बालक क्षेत्र में ही एक जगह से मिला। उक्त बालक को हुलिया के आधार पर सकुशल दस्तयाब कर उसके परिजनों के सुपुर्द किया गया।
दरअसल बालक पढ़ाई के डर के कारण ही घर से निकलकर ट्यूशन ना जाते हुए इधर-उधर छुप रहा था। बालक के सकुशल मिलने पर उसके परिजनों द्वारा इंदौर पुलिस और थाना सराफा की टीम का हृदय से धन्यवाद दिया गया।

   उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी सराफा निरीक्षक सुनील शर्मा और उनकी टीम का सराहनीय योगदान रहा ।