• क्राइम ब्रांच की कार्यवाही में धोखाधडी करने वाले फर्जी कंपनी के संचालक 02 आरोपियों को किया गिरफ्तार।
  • क्राइम ब्रांच इंदौर में प्राप्त  शिकायत में असम के फरियादी से आरोपियों के द्वारा शेयर मार्केट की फाइनेंस स्कीम मे दिन के 05 से 06 हजार का मुनाफा देने के नाम से झूठ बोलकर झांसे में लेते हुए 50,000/– रुपए लेकर की थी ठगी ।
  • शातिर आरोपियों के द्वारा बैंक खाता एवं कॉलिंग के लिए सिमकार्ड झूठ बोलकर अन्य परिचितों का उपयोग करके, करते थे ठगी।

इंदौर- दिनांक 22 जून 2022-श्रीमान पुलिस आयुक्त नगरीय इंदौर श्री हरिनारायणचारी मिश्र व्दारा इंदौर शहर में लोगों से छलकपट कर अवैध लाभ अर्जित करते हुये आर्थिक ठगी करने वाले अपराधियों पर प्रभावी कार्यवाही के निर्देश दिए गए हैं। उक्त1 निर्देशों के अनुक्रम में श्रीमान अतिरिक्त पुलिस आयुक्त (अपराध) श्री राजेश हिंगणकर के मार्गदर्शन में पुलिस उपायुक्त (क्राइम ब्रांच) श्री निमिष अग्रवाल एवं अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त  श्री गुरू प्रसाद पाराशर व एसीपी (सायबर) श्री निमेष देशमुख के द्वारा आर्थिक ठगी एवं सोशल मीडिया संबंधी अपराधो की रोकथाम हेतु क्राइम ब्रांच फ्रॉड इन्वेस्टिगेशन टीमों को लगाया गया है  ।

                इसी अनुक्रम में कार्यालय अपराध शाखा में असम के फरियादी के द्वारा धोखा–धडी की शिकायत प्राप्त हुई थी जिसकी जांच पुलिस उपायुक्त (क्राइम ब्रांच) श्री निमिष अग्रवाल के निर्देशन में फ्रॉड इंन्वेस्टीगेशन सेल टीम द्वारा कराई गई थी।    शिकायत जांच में पता चला कि में असम के फरियादी को PMS security कंपनी की फाइनेंस स्कीम ट्रेडिंग मे पैसे निवेश करने व 05 से 06 हजार रूपए रोज का मुनाफा देने का झूठा वादा करते फरियादी से 50 हजार रूपए ऑनलाइन खाते में डलवाकर ठगी की गई ।

        जिस पर क्राइम ब्रांच टीम द्वारा दोनो आरोपियों की जानकारी निकालकर जूनी इंदौर क्षेत्र के खातीवाला टैंक स्थित PMS security के नाम संचालित फर्जी कंपनी के दोनो संचालक आरोपी  (1).लोकेश उर्फ आनंद जोडवाल पिता जगन्नाथ (2).पूजा शर्मा उर्फ नेहा राठौर को पकड़ा, आरोपियों से कंपनी के संबंध में पूछते कोई दस्तावेज होना नही बताया ।

      संचालक आरोपी आनंद जोडवाल जो की Be इंजीनियर है एवं साथी महिला आरोपी नेहा राठौर जिसने MBA किया है ने पूछताछ में बताया कि जूनी इंदौर क्षेत्र के टावर चौराहा स्थित PMS security के नाम संचालित फर्जी कंपनी के नाम से राज्य के बाहर के लोगो को झूठ बोलकर शेयर बाजार में इन्वेस्टमेंट करने व 5 से 6 हजार रुपए का मुनाफा प्रतिदिन देने का झूठा वादा ठगी करना साथ ही आरोपियों के द्वारा कॉलिंग के लिए सिमकार्ड एवं बैंक खाते परिचित व्यक्तियो को झूठ बोलकर की आपके खाते मैं पैसे डलवा रहा हु सिविल स्कोर अच्छा होजाएगा जैसा झूठ बोलकर उनके बैंक खाते का दुरुपयोग करके कई लोगो से पैसे ऑनलाइन ट्रांसफर करवाकर ठगी करना कबूला।

        दोनो शातिर आरोपियों के विरुद्ध थाना जूनी इंदौर के अपराध पंजीबद्ध कर अग्रिम वैधानिक कार्यवाही की जा रही है।