इंदौर- दिनांक 03 अक्टूबर  2022 – पुलिस मुख्यालय भोपाल के निर्देशानुसार चलाए जा रहे जागरूकता अभियान  “चेतना” के अनुक्रम में पुलिस आयुक्त नगरीय इंदौर श्री हरिनारायणचारी मिश्र एवं अतिरिक्त पुलिस आयुक्त (अपराध /मुख्यालय) इंदौर श्री राजेश हिंगणकर के दिशा निर्देशन में इंदौर पुलिस द्वारा मानव दुर्व्यापार संबंधी अपराधों की रोकथाम व महिलाओं एवं बच्चों की सुरक्षा हेतु प्रभावी कार्यवाही के साथ ही लोगों में इस संबंध में सामाजिक चेतना व जन जागरूकता की भावना लाने के लिये प्रयास किए जा रहे हैं।

      इसी तारतम्य में पुलिस उपायुक्त (मुख्यालय) श्री निमिष अग्रवाल एवं अति. पुलिस उपायुक्त (मुख्यालय) श्रीमती मनीषा पाठक सोनी व अति.पुलिस उपायुक्त श्री प्रमोद सोनकर के मार्गदर्शन में उक्त चेतना अभियान के तहत पुलिस टीमें विभिन्न स्कूल, कॉलेज, संस्थानों, मॉल बाजार, आदि भीड़ भाड़ वाले सार्वजनिक स्थानों पर  पहुंचकर बच्चों/महिलाओं एवं आम नागरिकों को मानव दुर्व्यापार संबंधी अपराधों एवं इनकी रोकथाम हेतु ध्यान रखने वाली बातों के प्रति जागरूक कर रहे है।

      इसी कड़ी में निरीक्षक श्रीमती राधा जामौद, उप निरीक्षक श्री शिवम ठक्कर सउनि गयेंद्र यादव, उनि दुर्गा सूर्यवंशी, सउनि नलिनी पाटिल, प्रआर. वीरेन्द्र, प्रआर. सुनीता मोरे, आर. वंदना की टीम ने आई बस में सवारी करी और लोगों को     मानव दुर्व्यापार के तहत होने वाले विभिन्न अपराधों एवं उनके तरीकों को बताया और किस प्रकार हम जागरूक व सतर्क रहकर, स्वयं व अपने परिजनों को इससे बचा सकते हैं बताया गया। और सभी को कहा कि बच्चों की तस्करी की रोकथाम में हम भी महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते है, यदि हमें कोई अजान बच्चा सफर में  किसी को मिलता है या ऐसा लगता है कि बच्चे को कोई गलत जगह ले जा रहा है या किसी भी प्रकार की संदिग्ध गतिविधि लगती है तो इसकी तत्काल सूचना पुलिस या चाइल्ड हेल्पलाइन पर करें। बस में सफर कर रहें नागरिकों को पुलिस द्वारा चलाई जा रही विभिन्न हेल्पलाइन की जानकारी के साथ मानव दुर्व्यापार पर जन जागरूकता हेतु बनाए गए पम्पलेट्स वितरित किये गये।